Wednesday, May 22, 2024
Homeउत्तराखण्डडीएम धीराज सिंह गर्ब्याल की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा समिति की बैठक...

डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित, दिए निर्देश

हरिद्वार : जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल की अध्यक्षता में बुधवार को कलक्ट्रेट सभागार में सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित हुई। बैठक में अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण सुरेश तोमर ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से सड़क सुरक्षा से सम्बन्धित विभिन्न बिन्दुओं पर विस्तार से जानकारी दी। जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने बैठक में सर्वप्रथम अधिकारियों से ई-रिक्शाओं की संख्या सीमित करने के सम्बन्ध में एक कम्प्रीहेंशिव प्लान बनाने हेतु पूर्व में दिये गये निर्देश के क्रम में जानकारी ली तो अधिकारियों ने बताया कि ई-रिक्शओं का रूट निर्धारण, उनकी संख्या को सीमित रखने तथा मेला आदि पर्वों में क्या व्यवस्था रहेगी आदि के सम्बन्ध में एक कम्प्रीहेंशिव प्लान तैयार कर सम्भागीय परिवहन अधिकारी देहरादून के माध्यम से परिवहन आयुक्त उत्तराखण्ड को प्रेषित किया गया है तथा जैसे ही इस सम्बन्ध में जो भी दिशा-निदेश प्राप्त होते हैं, उसी अनुसार कार्रवाई की जायेगी।
बैठक में जिलाधिकारी द्वारा हिट एण्ड रन के प्रकरणों में क्या प्रगति है, के सम्बन्ध में पूछे जाने पर अधिकारियों ने बताया कि हिट एण्ड रन के 47 प्रकरण लम्बित हैं, जिनमें से दो प्रकरणों का निस्तारण किया जा चुका है। इस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी प्रकट करते हुये कहा कि इसकी प्रगति काफी धीमी है तथा निर्देश दिये कि इसमें तेजी लायी जाये। बैठक में जिलाधिकारी ने कतिपय विभागों के सक्षम अधिकारियों के बैठक में उपस्थित न होने पर भी नाराजगी प्रकट की तथा निर्देश दिये कि भविष्य की बैठकों में सक्षम अधिकारी ही भाग लें, अन्यथा की स्थिति में कार्रवाई की जायेगी।
जिलाधिकारी द्वारा बैठक में नजीबाबाद-हरिद्वार मार्ग पर चण्डीघाट से चण्डी मन्दिर तक दुर्घटनाबहुल क्षेत्र होने का संज्ञान लेते हुये एनएचएआई के अधिकारियों से पूर्व में जाल लगाने तथा क्रेश बैरियर लगाने के सम्बन्ध में दिये गये निर्देश के सम्बन्ध में पूछा तो अधिकारियों ने बताया कि सेफ्टी वॉल लगा दी गयी है तथा पहाड़ी से जो पत्थर गिरते हैं, ऐसे क्षेत्रों में जाल लगाने के लिये वन विभाग की अनुमति की आवश्यकता होगी। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि आपदा प्रबन्धन ऐक्ट के तहत सम्बन्धित क्षेत्र के लिये अनुमति प्रदान कर दी जायेगी तथा तद्नुसार कार्रवाई करें। 
डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने बैठक में एनएचएआई, एनएच तथा लोक निर्माण विभाग आदि के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जहां पर भी गड्ढे हैं या रोड टूटी है, उसको तुरन्त ठीक करना सुनिश्चित करें। बैठक में जनपद के किस क्षेत्र में कहां-कहां पर ब्लैक स्पॉट चिह्नित किये गये हैं, के सम्बन्ध में विस्तार से चर्चा हुई। इस पर अधिकारियों ने बताया कि कुल 40 ब्लैक स्पॉट चिह्नित हैं, जिनमें से 24 ब्लैक स्पॉट का पूर्ण रेक्टिफिकेशन कर दिया गया है, 11 ब्लैक स्पॉट में शार्ट टर्म मेजर पूर्ण कर दिये गये हैं तथा एनएच-74 में पांच ब्लैक स्पॉट में कार्य प्रगति पर है। इस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि ब्लैक स्पॉट से सम्बन्धित जो भी कार्य शेष हैं, उनको यथाशीघ्र करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी का ध्यान बैठक में व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों ने बिड़ला पुल की ओर से वाल्मीकि चौक तक सड़क के चौड़ीकरण के सम्बन्ध में आकृष्ट किया तो जिलाधिकारी द्वारा अधिकारियों से पूछे जाने पर लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इसका टेण्डर हो चुका है, जिस पर शीघ्र ही कार्य प्रारम्भ किया जायेगा। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी(प्रशासन) पीएल शाह, संयुक्त मजिस्ट्रेट रूड़की अभिनव शाह, एमएनए दयानन्द सरस्वती, एसडीएम लक्सर जीएस चौहान, एसडीएम भगवानपुर जितेन्द्र कुमार, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण सुरेश तोमर, ईई लोक निर्माण रूड़की एमए खान, एनएचएआई से आलोक शर्मा, अमित शर्मा, एसीएमओ एके तोमर, एसएनए रूड़की एसपी गुप्ता, जिला अध्यक्ष व्यापार मण्डल सुरेश गुलाटी, विजय शर्मा सहित सम्बन्धित पदाधिकारी व अधिकारीगण उपस्थित थे।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments