कोटद्वार थाने पहुंचा विधानसभा में नौकरी दिलाने का मामला। दो युवकों से ठगे 15 लाख रुपये

0
35

कोटद्वार उत्तराखंड विधानसभा में नौकरी दिलाने के नाम पर दो युवकों से लाखों रुपये की ठगी का मामला सामने आया है जिसको लेकर कोटद्वार कोतवाली में तहरीर दी गई है। जिसमे एक ठग ने खुद को यूपी के बड़े भाजपा नेता और दिल्ली के वरिष्ठ नेता का रिश्तेदार बताकर नौकरी दिलाने का झांसा दिया। इस संबंध में एक युवक की बुआ ने कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है जिसके आधार पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।
आपको बता दें कि कोटद्वार नगर के शिवपुर निवासी महिला बीरबाला नेगी ने बताया कि दुधारखाल क्षेत्र का एक व्यक्ति खुद को उत्तर प्रदेश के एक बड़े भाजपा नेता और केंद्र सरकार के एक बड़े अधिकारी का रिश्तेदार बताकर युवाओं को सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर ठग रहा है। उन्होंने बताया कि साल 2020 में उक्त व्यक्ति ने उसके भतीजे को विधानसभा में सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा दिया। उसके झांसे में आकर मेरे भतीजे ने मुझसे नौकरी के लिए पैसे मांगे। उसकी बात पर आकर मैंने अपने बैंक से 3,50,000 रुपये आरटीजीएस फंड ट्रांसफर के माध्यम से व्यक्ति के खाते में डाल दिए।
शेष धनराशि के लिए उसके भतीजे ने अपनी जमीन बेचकर उसके गूगल-पे के माध्यम से 5,30,000 रुपये की धनराशि उसके खाते में डाल दी। बताया कि इसके अलावा उक्त व्यक्ति एक अन्य युवक से भी सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर छह लाख रुपये ठग चुका है। पिछले दो साल से वह न तो नौकरी लगा रहा है और न ही उनके पैसे वापस दे रहा है।वर्तमान में लंबे समय से उसका मोबाइल बंद आ रहा है। इस कारण वे परेशान हैं। उन्होंने पुलिस से मामले में आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनकी रकम को वापस दिलाने की मांग की है।
इस मामले में कोटद्वार कोतवाल विजय सिंह का कहना है की सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी के मामले की तहरीर मिली है। मामले की जांच की जा रही है।