कोटद्वार में अवैध खनन के ट्रेक्टर ट्रॉली छोड़ने के मामले में नायब नाजीर निलंबित, बिना अनुमति के चल दिए सरकारी वाहन से चेकिंग करने

0
159
Google search engine

कोटद्वार तहसील में अवैध खनन के धंधे से जुड़ी खबरें रोज सामने आ रही है। हालही में कोटद्वार में खनन सामग्री से लदे ट्रैक्टर-ट्रॉली को छुड़वाने के मामले में जिला प्रशासन सख्त दिखा। मामले में एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने और जिला खनन अधिकारी की प्राथमिक जांच रिपोर्ट के बाद तहसील कोटद्वार के नायब नाजिर को निलंबित कर दिया गया है। जांच में नायब नाजिर की ओर से बिना किसी सक्षम अधिकारी की अनुमति के राजकीय वाहन का उपयोग करना, खनन वाहनों को पकड़ना व छोड़ा जाना पाया गया है।

बीते 24 नवंबर को तहसील कोटद्वार में अवैध खनन से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली को राजस्व विभाग ने पकड़ा था जिसे दो आरोपियों ने छुड़वा लिया था। मामले में राजस्व निरीक्षक अतर सिंह ने कोतवाली में इस संबंध शिकायत दर्ज की थी। मामले में पुलिस ने बीते 28 नवंबर को दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद मामले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। डीएम ने मामले की निष्पक्ष जांच के निर्देश जिला खनन अधिकारी को दिए थे। जिला खनन अधिकारी की रिपोर्ट में यह सामने आया है कि तहसील कोटद्वार में सेवारत नायब नाजिर ने बिना किसी सक्षम अधिकारी की अनुमति के राजकीय वाहन का उपयोग किया। साथ ही अवैध खनन में लिप्त वाहनों को पकड़ने व छोड़ने में कर्मचारी सेवा नियमावली का उल्लंघन किया। डीएम ने मामले में वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने और जिला खनन अधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर वरिष्ठ सहायक/नायब नाजिर प्रवीन सिंह को निलंबित कर दिया है।

डीएम ने इस मामले में शामिल कोटद्वार तहसीलदार के चालक संजीव वर्मा का तबादला तहसील यमकेश्वर और कोटद्वार तहसील में संबद्ध चालक अनिल सिंह रावत का तबादला जिला आपदा प्रबंधन कार्यालय पौड़ी कर दिया है। साथ ही मामले की जांच एसडीएम लैंसडौन को साँप 15 दिनों में रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। वहीं इससे पहले अगस्त माह में एसडीएम कोटद्वार के चालक ललित असवाल का धुमाकोट तबादला कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here