Wednesday, April 24, 2024
Homeउत्तराखण्डअपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने की मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम तैयारियों...

अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने की मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम तैयारियों की समीक्षा, दिए निर्देश

सभी क्षेत्रों के लोगों से इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में शामिल होने का अनुरोध

देहरादून : ‘मेरी माटी मेरा देश’ अभियान को उत्तराखण्ड राज्य में सफलतापूर्वक संचालित करने के लिए सरकार के विभिन्न विभाग जिला प्रशासन के साथ मिलकर मिशन मोड पर कार्य कर रहे हैं। देशभर की तरह ही उत्तराखण्ड में भी इस अभियान में वसुधा वंदन, शिलाफलकम (स्मारक) को शामिल करते हुए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम के अंतर्गत होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की तैयारी की समीक्षा करने के लिए एक बैठक का आयोजन आज अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी अध्यक्षता में सचिवालय में किया गया। बैठक में राज्य में मेरी माटी मेरा देश अभियान के आयोजन की रूपरेखा पर गहन चर्चा की गई।
एसीएस राधा रतूड़ी ने सभी जिलाधिकारियों को अपने अपने जनपदों के हर गांव में वसुधा वंदन कार्यक्रम के तहत पौधारोपण सुनिश्चित करने हेतु पर्याप्त संख्या में पौधों की व्यवस्था करने एवं नर्सरी मैपिंग के निर्देश दिए हैं।  उन्होंने कहा कि इस अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन में वन विभाग, उद्यान विभाग, शिक्षा विभाग, संस्कृति विभाग, खेल विभाग, युवा कल्याण विभाग,  पंचायती राज विभाग, सैनिक कल्याण विभाग तथा जनजागरूकता में सूचना विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। अपर मुख्य सचिव ने जिलाधिकारियों को स्कूली बच्चों, वॉलियन्टर्सं, स्वयं सेवी संगठनों, युवाओं, स्वयं सहायता समूहों तथा अधिकाधिक स्थानीय लोगों को इस अभियान से जोड़ने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जनपद स्तर पर दीया एवं कलश बनाये जाने हेतु स्वयं सहायता समूहों की भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। पुलिस विभाग को मेरी माटी मेरा देश अभियान से सम्बन्धित विशेष मार्च आयोजन तथा वीरो का सम्मान के निर्देश दिए गए हैं।
अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने वसुधा वंदन और शिलाफलकम के महत्व पर बल दिया। उन्होंने  कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत/गांव वसुधा वंदन के अंतर्गत स्वदेशी प्रजातियों के 75 पौधे लगाकर धरती का नवीनीकरण और पुनः पूर्ति करेगा। एसीएस ने शिलाफलकम के महत्व पर बल देते हुए कहा कि इस कार्यक्रम का मूल उद्देश्य उन सभी वीरों के प्रति अपना हार्दिक भाव व्यक्त करना है जिन्होंने देश के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों से इस आयोजन में अधिकाधिक जन भागीदारी सुनिश्चित करने के साथ ही सभी क्षेत्रों के लोगों से इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में शामिल होने का अनुरोध किया है।
बैठक में जानकारी दी गई कि राज्य में मेरी माटी मेरा देश अभियान के तहत 9 से 15 अगस्त के मध्य प्रत्येक ग्राम पंचायत में अमृत सरोवर के किनारे, अन्य जल निकाय, पंचायत कार्यालय, स्कूल अथवा अन्य महत्वपूर्ण सार्वजनिक स्थल पर शहीद वीरों के नाम पर स्मारक पटिट्का की स्थापना की जाएगी। इसके साथ ही प्रत्येक ग्राम पंचायत में मिट्टी या मिट्टी का दीया लेकर पंचप्रण शपथ ली जायेगी। शपथ के दौरान सेल्फी अभियान भी चलेगा। इस सेल्फी को merimaatimeradesh.gov.in वेबसाइट पर अपलोड करना होगा। वसुधा वन्दन के तहत प्रत्येक ग्राम पंचायत में अमृत वाटिका बनाई जाएगी। कम से कम 75 स्थानीय प्रजाति के पौधों का रोपण इस अमृत वाटिका में किया जाएगा। इस दौरान स्वतंत्रता सेनानी एवं शहीदों के परिवारों को सम्मानित करने हेतु ग्राम पंचायत स्तर पर इस कार्यक्रम में उनके साथ-साथ सेवानिवृत रक्षाकर्मियों, राज्य एवं केन्द्रीय सुरक्षा बलों, राज्य पुलिस कर्मियों एवं इनमें ड्यूटी के समय शहीद हुए बहादुरों के परिवारों को भी सम्मानित किया जा सकता है। प्रत्येक कार्यक्रम में झण्डा रोहण एवं राष्ट्रगान का आयोजन किया जायेगा। प्रत्येक ग्राम पंचायत से विकासखण्ड एवं विकासखण्ड से नई दिल्ली कर्तव्य पथ तक मिट्टी यात्रा निकाली जायेगी।
छोटे शहरी निकायों/कैन्टोनमैंट बोर्ड एवं नगर पंचायतों में ग्रामीण क्षेत्रों हेतु यह समस्त कार्यक्रम 9 अगस्त से 15 अगस्त तक आयोजित किया जायेगा तथा बड़ी नगर पालिकाओं में यह कार्यक्रम 16 अगस्त से 20 अगस्त तक आयोजित किया जायेगा। छोटे शहरी निकायों से मिट्टी कलश बड़ी नगर पालिकाओं एवं निगमों में समारोहपूर्वक जाए जाएगें। बैठक में सचिव राधिका झा, हरीचंद सेमवाल, दीपेन्द्र कुमार चौधरी, अपर सचिव विनीत कुमार, जितेन्द्र सोनकर, महानिदेशक सूचना  बंशीधर तिवारी, निदेशक संस्कृति बीना भट् तथा अन्य उच्चाधिकारी उपस्थित थे।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments