Thursday, June 13, 2024
Homeउत्तराखण्डमानसिक रूप से परेशान भूतपूर्व सैनिक पहुंचा कोटद्वार से रूडकी, AHTU ने...

मानसिक रूप से परेशान भूतपूर्व सैनिक पहुंचा कोटद्वार से रूडकी, AHTU ने किया सकुशल परिजनों के सुपुर्द

रूडकी : एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट हरिद्वार द्वारा जनपद क्षेत्र अंतर्गत गुमशुदा तलाश बालक ,बालिका, महिला एवं वरिष्ठ नागरिक एक अभियान चलाया गया जिसके अंतर्गत कोतवाली गंगनहर क्षेत्र से एक वृद्ध जिन्होंने मौके पर अपना नाम मदन मोहन जुयाल पुत्र स्वर्गीय जोतराम जुयाल उम्र लगभग 84 वर्ष बताया ,वृद्ध की मानसिक स्थिति को देखकर प्रभारी निरीक्षक राकेंद्र कठेत एवं उनकी टीम आरक्षी मुकेश कुमार, आरक्षी जितेंद्र, आरक्षी चालक दीपक चंद द्वारा वृद्ध को तत्काल रेस्क्यू कर गंगनहर कोतवाली में सूचना देकर अग्रिम कार्यवाही हेतु एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट कार्यालय मायापुर हरिद्वार लाया गया जहां वृद्ध की काउंसलिंग कर वृद्ध द्वारा बताई अधूरी जानकारी के आधार पर कोटद्वार पुलिस से संपर्क कर वृद्ध के परिजनों से संपर्क किया गया एवं तत्काल आवश्यक कागजात लेकर वृद्ध भूतपूर्व सैनिक के पुत्र नितिन जुयाल को एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट कार्यालय मायापुर हरिद्वार आने को कहा गया।
नितिन जुयाल द्वारा अपने पिता को देखकर आंखों में आंसू लिए दबी, भारी आवाज में बताया गया कि उनके पिता एक भूतपूर्व सैनिक हैं एवं उनकी माताजी भी बीमार रहती हैं उनके पिता की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है एवं वह 04 अगस्त 2023 दोपहर से अपने निवास स्थान सीतापुर देवी रोड कोटद्वार से लापता है मेने ,मेरे परिवार एवं रिश्तेदारों के द्वारा उन्हें खोजने का बहुत प्रयास किया परंतु हमें निराशा हाथ लगी ।जब एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट हरिद्वार द्वारा हमें हमारे पिता के संबंध में बताया गया तो हमारे परिवार वा मेरी बीमार माताजी ने सुकून की सांस ली हमें उम्मीद नहीं थी कि हमारे पिताजी हमें न जाने फिर कब किस हाल में मिलेंगे माताजी व परिवार सदस्यों का भी रो-रो कर बहुत बुरा हाल था मैं इस कार्य के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार एवं एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट हरिद्वार का हमेशा आभारी रहूंगा । एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट हरिद्वार द्वारा लगातार ना केवल उत्तराखंड बल्कि बाहरी राज्यों के बालक ,बालिकाओं महिलाओं एवं वरिष्ठ नागरिकों को भी तलाश कर उनके परिवारों से मिलाया जा रहा है जिसकी जितनी सराहना की जाए उतनी कम है।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments