Tuesday, February 27, 2024
https://investuttarakhand.uk.gov.in/
Homeउत्तराखण्डपतंजली योगपीठ के नाम पर हो रहे ठगी के खेल से हरिद्वार...

पतंजली योगपीठ के नाम पर हो रहे ठगी के खेल से हरिद्वार पुलिस ने उठाया पर्दा

 

लंदन यूनाइटेड किंगडम की IP से तैयार की गई थी वेबसाइट, इंटरनेशनल पेमेंट का था फंडा

  प्रकरण में विधि विवादित किशोर को पुलिस संरक्षण में लेते हुए एक अन्य शातिर अभियुक्त को भी गिरफ्तार किया गया

15 दिन में की थी 16.3 लाख की अवैध कमाई, बीते माह ही खरीदे थे 02 मकान तथा 02 लग्जरी गाड़ी

हरिद्वार : 02 अगस्त 2023 को वादी आचार्य रजनीश उर्फ स्वामी बजरंग देव निवासी पतंजलि योगपीठ जिला हरिद्वार द्वारा विगत कुछ महीनों से पतंजलि में इलाज के नाम पर हो रही फर्जी बुकिंग, बीमार पीड़ित से ठगी तथा पतंजलि योगपीठ की आम छवि खराब करने के सम्बन्ध में शिकायत दी। तहरीर के साथ ही 03 मामलों में लगभग 2 लाख की ठगी संबंधित दस्तावेज दिखाने पर थाना बहादराबाद पर मु0अ0स0 317/23 धारा 420/467/468/471 ipc पंजीकृत की गई। विवेचना के दौरान पता चला कि अभियुक्तों ने पतंजलि में बुकिंग के लिए पतंजली के नाम पर लंदन यूनाइटेड किंगडम की IP से फर्जी वेबसाइट तैयार की गई तथा डोमेन खरीदने के लिए पेमेंट का मोड भी इंटरनेशनल है।
अभियुक्तों द्वारा फर्जी आईडी के सिम निकलवाकर भिन्न भिन्न ऑनलाइन वॉलेट, paytm बैंक fincare बैंक, इक्विटस बैंक आदि खातों से फ्रॉड अमाउंट को ट्रांसफर किया जाता है तथा छल से ही प्राप्त भोले भाले लोगों के खातों का एक्सेस लेकर उनसे विड्रॉल किया जाता है । साथ ही IFSC कोड को भी काउंटरफीट कर के हरिद्वार का Display कर देते हैं। जिससे पीड़ित को विश्वास हो जाता है कि यह खाता पतंजलि योगपीठ का ही है, जबकि वास्तविक रूप से खाते बंगाल, बिहार, उड़ीसा व तमिलनाडु के पाए गए हैं। इस प्रकार अभियुक्तों के खाते की केवाईसी का स्थान, एटीएम विड्रॉल का स्थान, कॉलिंग नंबर की लोकेशन, तथा वेबसाइट क्रिएशन का स्थान आदि यूनाइटेड किंगडम तथा देश के अन्य भिन्न भिन्न स्थानों का होना पाया गया।
उक्त सम्बन्ध में आरोपियों की धर पकड़ के लिए एसएसपी अजय सिंह के निर्देशन में टीम का गठन किया गया। गठित टीम ने तत्परता एवं दक्षता से कार्यवाही करते हुए दिनांक 10 अगस्त 2023 को बिहार के नवादा जिले के ग्राम सोहजाना से बुकिंग हेतु बने फर्जी कॉल सेंटर से 2 साइबर ठगों को ग्रामीणों के भारी प्रतिरोध के बाबजूद गिरफ्तार किया गया गिरफ्तारी के बाद अभियुक्तों के मोबाइल की जांच से पाया कि सॉफ्टवेयर की मदद से अभियुक्त अपने फोन की proxy लोकेशन किसी अन्य स्थान की कर सकते हैं, जिससे दौराने जांच पीड़ित को जिस नंबर से कॉल आती है उनकी लोकेशन देश के भिन्न भिन्न कोनों मुंबई, असम, कोलकाता की आती है।
गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों में एक का नाबालिग होने के कारण विधिक कार्यवाही के पश्चात परिजनों के सुपुर्द किया गया। अन्य अभियुक्त को CJM कोर्ट नवादा में पेश कर ट्रांजिट रिमांड हासिल कर हरिद्वार लाया गया है। अभियुक्तों के बयान व मोबाइल से मिले अहम साक्ष्यों के आधार पर अन्य फरार अभियुक्तों को ट्रेस आउट किया जा रहा है। अभियुक्तों के व्हाट्सएप चैट तथा मौजूद अन्य दस्तावेजों से पता चला कि अभियुक्तों द्वारा मात्र 15 दिन में 16.3 लाख की अवैध कमाई की तथा विगत कुछ ही माह में अभियुक्त सुरेंद्र ने 2 नए मकान तथा एक बोलेरो, एक स्कॉर्पियो खरीदी।

बनाई गई फर्जी वेबसाइट-

 

नाम पता अभि0

  1. सुरेंद्र चौधरी पुत्र बिशुन चौधरी निवासी ग्राम कविरपुर, थाना शेखुपुर सराय, जिला शेखपुरा, बिहार ।
  2. – बाल अपचारी निवासी जिला शेखपुरा, बिहार 

बरामदगी

  • अपराध में प्रयुक्त 3 मोबाइल (जिनमें पतंजलि में बुकिंग से संबंधित फर्जी बाउचर, लाखों रुपयों के लेन देन का हिसाब व अन्य महत्वपूर्ण व्हाट्सएप चैट)

पुलिस टीम

  •  SHO रविंद्र शाह प्रभारी निरीक्षक बहादराबाद।
  • SI हेमदत्त भारद्वाज चौकी प्रभारी शांतरशाह।
  • HC योगेश कैंथोला (साइबर सेल)
  • HC अरुण (साइबर सेल )
  • C राहुल देव 
  • C नरेंद्र सिंह (SOG)
  • C वसीम (SOG)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments