Thursday, May 23, 2024
Homeउत्तराखण्डजीआरपी हरिद्वार ने गिरण्डर डेटिंग एप के माध्यम से लोगों को झांसे...

जीआरपी हरिद्वार ने गिरण्डर डेटिंग एप के माध्यम से लोगों को झांसे में लेकर लूटपाट करने वाले गैंग के 03 सदस्यों को किया गिरफ्तार, एसपी रेलवेज अजय गणपति ने किया खुलासा

हरिद्वार : गिरण्डर(Grindr) डेटिंग एप(LGBTQ community dating app ) के माध्यम से लोगों को झांसे में लेकर लूटपाट करने वाले 03 अभियुक्तो को थाना जीआरपी हरिद्वार ने किया गिरफ्तार। 09 अगस्त 2023 को वादी निवासी- ग्राम थरैया, थाना मोहनियां, कैमूर, बिहार द्वारा दी गई तहरीर बाबत 05 मई 2023 को हरिद्वार स्टेशन के टिकट काउंटर के सामने एक लड़के ने मेरे साथ दोस्ती कर अपनी मोटरसाइकल से मुझे शंकराचार्य चौक की तरफ ले गया, जहां 3 लड़के पहले से ही मौजूद थे। जिन्होंने मेरे साथ मारपीट कर मेरा ATM कार्ड और फोन ले लिया व डरा धमकाकर ATM का पिन पूछकर ATM से सारे पैसे निकाल लिए व 15,000 कैश व मेरी चेन,रिंग भी ले ली व मेरा मोबाइल, ATM वापस कर दिया। सम्बन्धित तहरीर के आधार पर थाना जीआरपी हरिद्वार पर मु0अ0सं0- 60/2023 धारा-392 भादवि पंजीकृत किया गया।
अभियोग के अनावरण हेतु पुलिस अधीक्षक रेलवेज अजय गणपति कुंभार के आदेशानुसार व अपर पुलिस अधीक्षक रेलवेज अरुणा भारती के दिशा- निर्देशन में थानाध्यक्ष जीआरपी हरिद्वार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया, साथ ही एसओजी जीआरपी को भी अनावरण हेतु निर्देशित किया गया उक्त के क्रम में 01 सितम्बर 2023 को मुकदमा उपरोक्त के सम्बन्ध मे थाना जीआरपी हरिद्वार पर पूछताछ हेतु बुलाये गये विनीत कुमार कटारिया पुत्र धर्मेंद्र कुमार निवासी -रामधाम कालोनी रावली महदूद, कोतवाली- रानीपुर जिला -हरिद्वार स्थाई पता- मंडावर जिला -बिजनौर, उम्र- 19 वर्ष व उत्तम कुमार पुत्र गौरव कुमार निवासी- गायत्री विहार, निकट आशियाना होटल सराय रोड, ज्वालापुर, हरिद्वार उपरोक्त दोनों व्यक्तियों से पूछताछ की गई तो उपरोक्त दोनों व्यक्तियों द्वारा बताया गया कि 05 मई 2023 की रात्रि को हमारे द्वारा तथा हमारे साथियों मोनू पाल, रविकांत, अर्जुन और विनीत राणा उर्फ काका के साथ मिलकर गिरण्डर एप के माध्यम से एक लड़के को रेलवे स्टेशन हरिद्वार से बैरागी कैंप गंगा किनारे ले जाकर उसके साथ मारपीट कर उसका ATM व फोन का PIN लेकर उसके ATM व फोन के UPI के माध्यम से ₹10000 ATM, 10,300/- UPI व 9250/- UPI के माध्यम से निकाले  तथा बाद में उसके गले की चेन, अंगूठी व जेब में पड़े रुपए और आधार कार्ड भी निकाल लिया जिसको हमने आपस में बांट लिया अंगूठी व चेन मोनू पाल अपने साथ ले गया तथा आधार कार्ड रविकांत (भारो) अपने साथ ले गया जिनके बारे में हमें कुछ नहीं पता है ,पहले भी हम लोग आपस में मिलकर इस तरह की कई घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं, हमारा साथी मोनू जो आजकल लूट के मामले में जेल में बंद है व हमेशा अपने साथ तमंचा रखता था और यदि कोई व्यक्ति ज्यादा शोर मचाता था तो उस तमंचे से उसको डराता था। 
05 मई 2023 को उस लड़के को ATM व फोन लेकर मेरे (विनीत) व विनीत राणा के द्वारा ही पैसे निकाले गए थे तथा मोटरसाइकिल उत्तम की थी मुझे व उत्तम को घटना के बाद 8-8 हजार रुपए दिए थे जिनमे से हमारे पास 1-1 हजार रुपये ही बचे हैं, पूछताछ में दोनों व्यक्तियों ने मुकदमा उपरोक्त से संबंधित घटना को किया जाना स्वीकार किया है । अतः दोनों अभियुक्तो को उनके जुर्म धारा-397 IPC से अवगत कराते हुए हस्व कायदा समय 22:30 बजे गिरफ्तार किया गया । तत्पश्चात आज  02 सितम्बर 2023 को अभियुक्त गण विनीत व उत्तम की निशादेही पर अभियुक्त रविकांत को सलेमपुर महदूद से गिरफ्तार किया गया जिसके पास से लूटी गई धनराशि में से इसके हिस्से में आए रुपयों में से 5000/-(बाकी खर्च कर देना बताया गया) नकदी व वादी ऋषभ का आधार कार्ड बरामद हुआ। अन्य फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी व माल बरामदगी हेतु टीमों को निर्देशित किया गया है, जिनको शीघ्र गिरफ्तारी किया जाएगा।

गिरफ्तार अभियुक्त गण

  1. विनीत कुमार कटारिया पुत्र धर्मेंद्र कुमार निवासी -रामधाम कालोनी रावली महदूद, कोतवाली- रानीपुर जिला -हरिद्वार स्थाई पता- मंडावर जिला -बिजनौर, उम्र- 19 वर्ष 
  2. उत्तम कुमार पुत्र गौरव कुमार निवासी- गायत्री विहार, निकट आशियाना होटल सराय रोड, ज्वालापुर,
  3. रविकांत पुत्र नेत्रपाल निवासी- हैदर नगर थाना- तितावी, मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश हाल निवासी- रामधाम कालोनी शिवालिक नगर, हरिद्वार।

बरामदगी

  1. अभियुक्त विनीत कटारिया से 1000 रु0/-(बाकी खर्च कर देना बताया गया)
  2. अभियुक्त उत्तम कुमार से 1000 रु0/- (बाकी खर्च कर देना बताया गया)
  3. अभियुक्त रविकांत से वादी का आधार कार्ड व 5000 रु/-(बाकी खर्च कर देना बताया गया)
  4. घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल व 4 मोबाइल बरामद किये गए। 

फरार अभियुक्त गण

  1. विनीत राणा निवासी मुजफ्फरनगर,उ0प्र0
  2. अर्जुन निवासी रावली महदूद, हरिद्वार
  3. मोनू पाल (वर्तमान में हरिद्वार जेल में)

अपराध करने का तरीका

उक्त अपराधीकरण शातिर किस्म के अपराधी हैं, जो कि गिरण्डर( Grindr) डेटिंग एप(LGBTQ community dating app ) के माध्यम से अपनी फर्जी आईडी बनाकर लोगों को झांसे में लेकर अपना शिकार बनाते हैं एवं लोगो को फंसा कर एकांत स्थान पर ले जाकर तमंचे से डरा, धमकाकर उसका ATM/UPI  पिन जानकर पैसे निकाल लेते हैं, साथ ही व्यक्ति के पास मौजूद धनराशि, मोबाइल, ज्वेलरी इत्यादि लूट लेते हैं।

पुलिस टीम

  1. अनुज सिंह, थानाध्यक्ष थाना जीआरपी हरिद्वार
  2. उप निरीक्षक विनय मित्तल, प्रभारी एसओजी जीआरपी
  3. कानि0 दीपक चौधरी, एसओजी जीआरपी
  4. कानि0 विनीत कुमार, एसओजी जीआरपी
  5. कानि0 मनोज,एसओजी जीआरपी
  6. कानि0 प्रदीप, थाना जीआरपी हरिद्वार
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments