Wednesday, May 22, 2024
Homeउत्तराखण्डकड़ी सुरक्षा के बीच ईवीएम एवं वीवीपीएटी मशीनों की प्रथम स्तरीय जांच का...

कड़ी सुरक्षा के बीच ईवीएम एवं वीवीपीएटी मशीनों की प्रथम स्तरीय जांच का कार्य हुआ प्रारम्भ

हरिद्वार : अपर जिलाधिकारी (प्रशासन)/उप जिला निर्वाचन अधिकारी पीएल शाह ने अवगत कराया ह कि भारत निर्वाचन आयोग/मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उत्तराखण्ड द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के क्रम में आगामी लोक सभा सामान्य निर्वाचन के दृष्टिगत  ईवीएम एवं वीवीपीएटी मशीनों की प्रथम स्तरीय जांच(एफएलसी-फर्स्ट लेवल चेकिंग)का कार्य कड़ी सुरक्षा के बीच ईसीआईएल हैदराबाद के अधिकृत इंजीनियरों द्वारा कलक्ट्रेट परिसर, रोशनाबाद के समीप स्थित ई०वी०एम० एवं वीवीपैट वेयरहाऊस में 01 सितम्बर, 2023 से प्रारम्भ कर दिया गया है। जो सम्भवतः 12 सितम्बर,2023 तक चलेगा।

अपर जिलाधिकारी (प्रशा.)/उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार लोक सभा सामान्य निर्वाचन से लगभग छः माह पूर्व ईवीएम तथा वीवीपैट की प्रथम स्तरीय जांच का कार्य किया जाता है। जिसके सम्बन्ध में सभी राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के साथ 25 एवं 30 अगस्त,2023 को दो बैठकें हो चुकी हैं। जिसमें  ईवीएम तथा वीवीपैट की प्रथम स्तरीय जांच(एफएलसी) के बारे में की गई तैयारियों,प्रक्रिया एवं आयोग द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों के सम्बन्ध में समस्त उपस्थित राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है तथा भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार एफएलसी हॉल में प्रवेश करने वाले समस्त अधिकारियों, कर्मचारियों, मजदूरों एवं राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों हेतु प्रवेश पत्र जारी कर दिये गये हैं तथा बिना प्रवेश पत्र के कोई भी व्यक्ति एफएलसी केन्द्र में प्रवेश नहीं कर पायेगा। एफ.एल.सी. हाल में बिना पास के प्रवेश वर्जित है। साथ ही स्कैनिंग हेतु निर्धारित मोबाइल के अतिरिक्त किसी भी व्यक्ति का मोबाइल ले जाना प्रतिबंधित है। जनपद में एफ.एल.सी. कार्य मे ई.सी.आई.एल. हैदराबाद  के 20 इंजीनियर लगे है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments