लालढांग के सरकारी अस्पताल में प्रसूता की मौत, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

0
1787

हरिद्वार- सोमवार को हरिद्वार जनपद के लालढांग छेत्र के डालूपुरी निवासी कमला देवी पत्नी महेंद्र सिंह को प्रसव के लिए लालढांग प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती किया गया था। शाम 7 बजे प्रसव के बाद महिला को ज्यादा रक्तस्राव होने लगा। महिला की हालत बिगड़ती देख एएनएम ने परिजनों को तुरंत जिला अस्पताल ले जाने की सलाह दी। परिजनों का कहना है कि उन्होंने रात को 108 एंबुलेंस सेवा को फोन किया। फोन पर उन्हें दो घंटे इंतजार करने को कहा गया। महिला की हालत बिगड़ती देख परिजन उसे निजी वाहन से जिला महिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां स्टाफ ने महिला को प्राथमिक उपचार देते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया। क्योंकि अस्पताल में वेंटीलेटर की सुविधा नहीं थी।
परिजन उसे हरिद्वार में ही बंगाली अस्पताल ले जाने लगे, लेकिन महिला ने दम तोड़ दिया। मंगलवार सुबह 7 बजे स्थानीय ग्रामीण महिला का शव लेकर लालढांग प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंच गए। उन्होंने स्वास्थ्य केंद्र के स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पर थानाध्यक्ष श्यामपुर प्रदीप मिश्रा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद सीओ प्रकाश देवली भी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाने लगे। दोपहर लगभग डेढ़ बजे सीएमओ अशोक गैरोला पीएचसी पहुंचे तो उन्हें ग्रामीणों ने घेर लिया। सीएमओ ने ग्रामीणों की बात सुनने के बाद दोनों एएनएम को निलंबित कर दिया।

Previous articleअनमैरिड कपल को कानूनी रूप से होटल में ठहरने का पूरा अधिकार, बस ये बात रक्खे ध्यान
Next articleकोटद्वार में बाइक सवार की दर्दनाक मौत, 108 से अस्पताल ले जाते हुए रास्ते मे हुई मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here