कावड़ में लाठी, त्रिशूल व डीजे होगा प्रतिबंधित, प्रसाशन शख्त

0
1368

कांवड़िये इस बार कांवड़ यात्रा में लाठी, डंडे व त्रिशूल लेकर नहीं चल पाएंगे। कांवड़ में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस ने इन्हें प्रतिबंधित कर दिया है। कांवड़ियों द्वारा वाहनों में डीजे चलाने पर भी रोक लगाई गई है। अंतर्राज्यीय समन्वय समिति की बैठक में लिए गए इन निर्णयों के मुताबिक विभिन्न राज्यों के पुलिस अधिकारियों को अपने राज्यों से आने वाले कांवड़ यात्रियों से इसका अनुपालन का निर्देश दिया गया है। बैठक में पड़ोसी राज्यों में होने वाली धार्मिक हलचल व उनकी गतिविधियों के संबंध में सूचना का आदान प्रदान के साथ ही विभिन्न बिंदुओं पर भी चर्चा हुई।

बुधवार को पुलिस मुख्यालय में हुई बैठक में पुलिस महानिदेशक सत्यव्रत ने कहा कि प्रदेश में आई आपदा के बाद अधिसंख्य पुलिस बल राहत बचाव कार्य में जुटा हुआ है। इस कारण पड़ोसी राज्यों का समन्वय व सहयोग और महत्वपूर्ण हो गया है। उन्होंने कहा कि कांवड़ यात्रा में आने वाले यात्री चार धामों की यात्रा भी करते हैं परंतु आपदा के चलते उन्हें पर्वतीय क्षेत्रों में जाने से सख्ती से रोका जाएगा। उन्होंने सभी अधिकारियों से इस संदेश को अपने-अपने प्रदेशों में प्रसारित करने का अनुरोध किया। उन्होंने उत्तर प्रदेश के उप महानिदेशक अपराध एवं कानून-व्यवस्था अरुण कुमार से अनुरोध किया कि कांवड़ शुरू होने से पहले मेरठ में एक समन्वय बैठक की जाए, जिससे तैयारियों की पुनर्समीक्षा हो सके।

Previous articleहरिद्वार में होगा गंगा आरती का लाइव टेलीकास्ट
Next articleकोटद्वार में मंदिर तोड़ने पर हुआ हंगामा, डीएफओ की गिरफ्तारी की मांग उठाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here