सिनेमाघरों में बाहर से लाया गया खाना खा सकते है आप। रोकने का किसी को नही अधिकार

0
933

अवनीश अग्निहोत्री(कोटद्वार) अक्सर आप जब भी कोई मूवी देखने मल्टिप्लेक्स में जाते है तो वहां घर से या बाहर से लाये हुए खाद्य पदार्थ को अंदर ले जाने की अनुमती नही होती। जबकि सरकार की तरफ से ऐसा कोई नियम नही है। इसके साथ ही सिनेमाघरो(मल्टीप्लेक्स) में अंदर केवल सील बन्द खाद्य पदार्थ ही बेचा जाएगा। अन्य सामान नही बेचा जा सकता। क्योकि अक्सर शिकायत मिलती है कि मल्टीप्लेक्स में उपलब्ध स्टॉल्स में खाद्य पदार्थ कई गुना ज्यादा रेट पर बेचा जाता है जो गलत है। आपको बता दें कि कुछ समय पूर्व गोरखपुर(उ.प्र.) के एक आरटीआई कार्यकर्ता आनंद रुंगटा द्वारा अपने छेत्र के सेलटैक्स कमिश्नर से सूचना का अधिकार के तहत इस सम्बंध में जानकारी मांगी गई थी। जिसका जवाब उन्हें विभाग की ओर से मिला। जिसमे साफ शब्दों में यह लिखा था कि मल्टीप्लेक्स संचालकों को बाहर से लाया गया खाने का सामान अंदर ले जाने से रोकने का कोई अधिकार नही है। आपको यह भी बता दें कि चलचित्र नियमावली, 1951 के अंतर्गत मल्टीप्लेक्स को दिए जाने वाले लाइसेंस की शर्त में यह स्पष्ट कहा गया है कि सिनेमाघर के अंदर बिकने वाले खुले खाद्य पदार्थ जैसे चाय, कॉफी, समोसा, ब्रेड पकोड़ा या ऐसी कोई भी खाने-पीने का चीज को नही बेचा जाएगा जो पैकेट में सील बन्द न हो। दरअसल खुले पदार्थो पर MRP प्रिंट न होने के कारण ज्यादातर मल्टीप्लेक्स संचालक इन्हें मनमाने रेट पर बेचते है जो कि पूर्णतः गलत है। इसलिए जागरूक बने अपनी मेहनत की कमाई को लुटने न दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here