कोटद्वार में हुई डकैती का मास्टरमाइंड भी शामली से हुआ गिरफ्तार। रिस्तेदार ही निकला डकैती का सूत्रधार

0
1845

कोटद्वार- बीते 25 दिसम्बर को पौड़ी जनपद के कोटद्वार नगर स्तिथ मोहल्ला सिताबपुर निवासी एक व्यावसायी के घर हुई डकैती के मामले में मुख्य सूत्रधार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। हैरानी की बात ये है कि ये सूत्रधार व्यावसायी का ही रिश्तेदार है। जिसने मुजफ्फरनगर के बदमाशों को जानकारी दी थी कि इस घर में काफी माल मिल सकता है। फिर बदमाशों ने डकैती को अंजाम दिया। इस मामले में पुलिस पांच आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी हैं। और अब एक आरोपी को पुलिस ने मुजफ्फरनगर से भी गिरफ्तार कर लिया।
आपको बता दें कि सिताबपुर निवासी प्रमोद कुमार की हरिद्वार में टाइल फैक्ट्री है। घटना वाले दिन वह हरिद्वार में थे। कोटद्वार स्तिथ घर में उनकी पत्नी, बेटी व मां थे। 25 दिसम्बर की सुबह करीब सात बजे कुछ हथियारबंद बदमाश उनके घर घुसे और उन्होंने सभी को बंधक बना लिया। इसके बाद घर में तसल्ली से लूटपाट कर फरार हो गए थे। बदमाशों ने उस घर से करीब पांच छह लाख की नगदी और सोने, चांदी के जेवर लूटे थे। इस मामले में तीन जनवरी को पुलिस ने राजकुमार उर्फ छोटा, कपिल उर्फ रावण, संदीप कुमार उर्फ पीन्टू, संजीव कुमार उर्फ सोनू व धीरज को थाना चरथावल क्षेत्र जिला मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश से डकैती के माल सहित गिरफ्तार किया गया। इसके पश्चात मुकदमे मे फरार चल रहे प्रवीण प्रजापति पुत्र चन्द्रपाल व अंकित पुण्डीर पुत्र प्रदीप की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु टीमें अपने कार्य मे लगी थी।
पुलिस ने इस मामले में मुख्य सूत्रधार प्रवीण प्रजापति पुत्र चन्द्रपाल निवासी पिन्ना थाना नगर मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश को दिनांक 11 जनवरी को शामली बस स्टेशन मुजफ्फरनगर से गिरफ्तार किया गया। उससे डकैती के बीस हजार रुपये भी बरामद किए गए।
प्रमोद का रिश्तेदार है प्रवीण
पूछताछ के दौरान प्रवीण प्रजापति ने बताया कि वह शिकायतकर्ता प्रमोद कुमार का रिश्तेदार है। वह प्रमोद के बहनोई का भाई है। 15-16 साल पहले वह प्रमोद के साथ कोटद्वार में रहता था। प्रमोद का व्यापार अच्छा चल रहा था। इस बात की उसे पूरी जानकारी थी। राजकुमार उर्फ छोटा ने लॉकडाउन से पहले उसकी मुलाकात अंकित से करवायी थी। पैसो के लालच में उसने राजकुमार और अंकित के साथ मिलकर अपने रिश्तेदार प्रमोद कुमार के घर पर डकैती डालने की योजना बनाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here