पौड़ी जनपद में इस जगह छाते के नीचे पढ़ रहा देश का भविष्य

0
837

पौड़ी- पहाड़ की बदहाल शिक्षा व्यवस्था किसी से नही छुपी है। सरकार झूठे दावे और वादे करके भले ही अपनी पीठ थापथपाले लेकिंन धरताल पर सच्चाई कुछ और ही है। प्रदेश और देश की राजनीति और सुरक्षा को बड़े बड़े नाम देने वाले पौड़ी जनपद की बात करे तो पाबौ ब्लॉक में स्थित राजकीय हाईस्कूल पिनानी में बच्चो का भविष्य छाते के नीचे गडा जा रहा है। बारिश के दिनों में स्कूल की छत आये दिन टपकती रहती है। बारिश होने पर कक्षा में बच्चे छाता खोलकर बैठते हैं। आलम ये है कि यहां न तो पर्याप्त भवन हैं और न ही उचित फर्नीचर। भवन की स्थिति इतनी खराब है कि कभी भी कोई अनहोनी हो सकती है।

पिनानी के इस विद्यालय का वर्ष 2005 में हाईस्कूल में उच्चीकरण किया गया था, उस समय विद्यालय को जरूरत के अनुसार प्रयाप्त संसाधन नहीं दिए गए। हा पर कुछ शिक्षकों की तैनाती जरूर कर दी गई थी। वर्ष 2010 तक कक्षा छह से दस तक पांच कक्षाएं जूनियर विद्यालय के भवन में चलती रहीं। इसी बीच यहां से करीब साढ़े तीन किलोमीटर दूर कुंडीर में भविष्य में बजट मिलने की प्रत्याशा में प्रयोगशाला भवन का निर्माण करा दिया गया। वर्ष 2010 से कक्षा 9 और 10 की पढ़ाई प्रयोगशाला भवन के दो कक्षों में ही चल रही है। इस संबंध में जब पौड़ी जनपद के मुख्य शिक्षा अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि विद्यालय में प्रयाप्त संसाधन नही है क्योकि कक्ष निर्माण के लिए बजट नहीं मिल रहा है। बजट आने पर ये समस्या दूर हो जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here